मंगलवार, 21 अगस्त 2012

प्यार का सपना,,,,

प्यार का सपना,

शाम होते उनका इन्तजार होता है
तकरार में भी उनका प्यार होता है

नीचे झुका लेते है हम अपनी नजरे,
सपने में जब उनका दीदार होता है

अश्क जब आते है उनकी आँखों में
नजारा बिलकुल झील जैसा होता है,

रख लेते जब उन्हें अपने दामन में
तो दामन सोने सा सुनहरा होता है,

माँझी की नही जरूरत होगी हमको
उनका साथही किनारे जैसा होता है,

शाहजहाँ-मुमताज ताज महल जैसा
चाँद-सितारों सा अपना प्यार होता है,

dheerendra bhadauriya,


58 टिप्‍पणियां:

  1. प्यार सिर्फ प्यार होता है... सुन्दर प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  2. आजकल प्यार बस सपना ही है

    उत्तर देंहटाएं
  3. ऐतबार निज प्यार पर, त्याग ललक पर-प्यार ।

    करना अपने बस बसे, मिलना कष्ट अपार ।

    मिलना कष्ट अपार, बड़ा नाजुक मिजाज है ।

    कैसे हो उद्धार, यहाँ बेवफा राज है ।

    धड़कन धक् धक् धीर, धमकते यहाँ अचानक ।

    परबस होय शरीर, किन्तु बढ़ जाती रौनक ।।

    उत्तर देंहटाएं
  4. प्यार तो प्यार है ...इसके ...पार नहीं होते ...यह भी सुन्दर धिरेंदर जी

    उत्तर देंहटाएं
  5. अश्क जब आते है उनकी आँखों में
    नजारा बिलकुल झील जैसा होता है,
    क्या सुंदर कल्पना है!

    उत्तर देंहटाएं
  6. प्यार का बहुत प्यारा सपना.
    बहुत सुन्दर, सुखद आभास ,
    प्यारी रचना :-)

    उत्तर देंहटाएं
  7. अश्क जब आते है उनकी आँखों में
    नजारा बिलकुल झील जैसा होता है,

    बहुत सुन्दर रचना....

    उत्तर देंहटाएं
  8. माँझी की नही जरूरत होगी हमको
    उनका साथही किनारे जैसा होता है

    बहुत अच्छी रचना !!

    उत्तर देंहटाएं
  9. प्यार बस प्यार ही होता है .........

    उत्तर देंहटाएं
  10. शाम होते उनका इन्तजार होता है

    बहुत अच्छा लिखा है.अक्सर यही कैफियत मेरी होती है.



    मोहब्बत नामा
    मास्टर्स टेक टिप्स

    उत्तर देंहटाएं
  11. बहुत खूब कहा आपने ! शुभकामनायें आपको !

    उत्तर देंहटाएं

  12. शाम होते उनका इन्तजार होता है
    तकरार में भी उनका प्यार होता है

    नीचे झुका लेते है(हैं ) हम अपनी नजरे,(नजरें )...............हैं ,......नजरें
    सपने में जब उनका दीदार होता है

    अश्क जब आते है (हैं )उनकी आँखों में...............हैं
    नजारा बिलकुल झील जैसा होता है,

    रख लेते जब उन्हें अपने दामन में
    तो दामन सोने सा सुनहरा होता है,

    माँझी की नही(नहीं ) जरूरत होगी हमको.........नहीं
    उनका साथही किनारे जैसा होता है,

    शाहजहाँ-मुमताज ताज महल जैसा
    चाँद-सितारों सा अपना प्यार होता है,
    बेदाग़ रचना है बहुत सुन्दर .झील सी गहरी आँखों सी ....
    कानों में होने वाले रोग संक्रमण का समाधान भी है काइरोप्रेक्टिक में
    http://kabirakhadabazarmein.blogspot.com/

    उत्तर देंहटाएं
  13. सौहाद्र का है पर्व दिवाली ,

    मिलजुल के मनाये दिवाली ,

    कोई घर रहे न रौशनी से खाली .

    हैपी दिवाली हैपी दिवाली .

    शुक्रिया आपका भाईसाहब .

    वीरू भाई .

    उत्तर देंहटाएं
  14. पोस्ट दिल को छू गयी.......कितने खुबसूरत जज्बात डाल दिए हैं आपने..........बहुत खूब

    उत्तर देंहटाएं

  15. बहुत सुंदर भावनायें और शब्द भी.बेह्तरीन अभिव्यक्ति!शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  16. माँझी की नही जरूरत होगी हमको
    उनका साथही किनारे जैसा होता है,

    बहुत खूब, सुंदर रचना !

    उत्तर देंहटाएं
  17. माँझी की नही जरूरत होगी हमको
    उनका साथही किनारे जैसा होता है,

    बढ़िया शैर है भाई साहब .

    उत्तर देंहटाएं
  18. खुबसूरत जज्बात सुंदर भावनायें रख लेते जब उन्हें अपने दामन में
    तो दामन सोने सा सुनहरा होता है,

    माँझी की नही जरूरत होगी हमको
    उनका साथही किनारे जैसा होता है,

    शाहजहाँ-मुमताज ताज महल जैसा
    चाँद-सितारों सा अपना प्यार होता है,

    उत्तर देंहटाएं
  19. उम्दा, बेहतरीन अभिव्यक्ति...बहुत बहुत बधाई...

    उत्तर देंहटाएं
  20. शाम होते उनका इन्तजार होता है
    तकरार में भी उनका प्यार होता है

    बढ़िया रचना धीरेन्द्र भाई ...
    बधाई !

    उत्तर देंहटाएं
  21. क्या मस्त कल्पना है मांझी की जरुरत नही हमको उनका साथ ही किनारे जैसा होता है वाह भी वाह सर जी मजा आ गया आपके फेन हुये पहली ही बार में आपका लिंक लगा रहा हूँ अपने राष्ट्रधर्म एक राष्ट्रीय पत्र व ब्लाग एग्री गेटर पर http://rastradharm.blogspot.in बाकी सभी भदौरिया जी के पाठको को भी मेरा सादर जय श्री राम अपने भी दो आयुर्वेदिक ब्लाग हैं इन पर आपको शायद कुछ सेहत सम्बंधी जानकारी अवश्य मिलेगी आयें ।http://ayurvedlight.blogspot.in/ व http://ayurvedlight1.blogspot.in/दोनो अलग अलग हैं कृपया एक न समझे।इनके अलाबा एक ब्लाग है विद्यार्थियों व कैरियर सलाह चाहने बालों के लिए पता है http://gyankusum.blogspot.in व राष्ट्रीय विचारों का पोषक http://rastradharm.blogspot.in और है सभी अपने आप में अनूठे है आपको रोचक जानकारियां मिलेंगी सभी पर

    उत्तर देंहटाएं
  22. बहुत नाजुक भाव लिए रचना |
    'रख लेते हैं उन्हें दामन मैं ,
    तो दामन सोने सा सुनाहा होता है ' बहुत खूब |
    आशा

    उत्तर देंहटाएं
  23. नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ... आशा है नया वर्ष न्याय वर्ष नव युग के रूप में जाना जायेगा।

    ब्लॉग: गुलाबी कोंपलें - जाते रहना...

    उत्तर देंहटाएं
  24. बहुत प्यारी गजल ...कितना प्यारा प्यार का सपना होता है , जब उनका साथ होता है... सादर

    उत्तर देंहटाएं
  25. मंगल कामनाएं आपको और नए वर्ष को भी ...

    उत्तर देंहटाएं
  26. नीचे झुका लेते है हम अपनी नजरे,
    सपने में जब उनका दीदार होता है
    wah bhai sahab ......bahut khoob .

    उत्तर देंहटाएं
  27. वाह....
    बहुत सुन्दर....
    सपने तो सपने हैं आखिर..
    देखिये कब उनका दीदार होता है....!!

    उत्तर देंहटाएं
  28. प्यार तो बस प्यार है ..
    बहुत खूब

    उत्तर देंहटाएं
  29. सुन्दर भावपूर्ण प्रस्तुति...बहुत बहुत बधाई...

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

      हटाएं
  30. तकरार में भी उनका प्यार होता है
    bahut sunder rachana.

    उत्तर देंहटाएं
  31. उत्तर
    1. माँझी की नही जरूरत होगी हमको
      उनका साथही किनारे जैसा होता है,

      शाहजहाँ-मुमताज ताज महल जैसा
      चाँद-सितारों सा अपना प्यार होता है,
      wah wah hr sher lajbab hai .....holi pr hardik badhai sir ji .

      हटाएं
  32. नीचे झुका लेते है हम अपनी नजरे,
    सपने में जब उनका दीदार होता है

    अति सुंदर शुभकामनाये , मेरा ब्लॉग भी देखे , जो गलतिया की हो वो बताये , आप मेरा मार्गदर्शन करें, आभार ...

    उत्तर देंहटाएं
  33. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  34. ati sunder ................abhivyakti..

    plz visit and follow my bblog also..

    anandkriti
    http://anandkriti007.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  35. ati sunder ................abhivyakti..

    plz visit and follow my bblog also..

    anandkriti
    http://anandkriti007.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  36. अश्क जब आते है उनकी आँखों में
    नजारा बिलकुल झील जैसा होता है,

    अति सुंदर शुभकामनाये,

    उत्तर देंहटाएं
  37. बहुत सुंदर चित्रण , भाव पूर्ण रचना , बधाई आपको ।

    उत्तर देंहटाएं
  38. प्यार जब भी होता हैं कुछ अलग ही अहसास होता हैं
    http://savanxxx.blogspot.in

    उत्तर देंहटाएं